भारतीय युवा और भ्रष्टाचार का भविष्य -डॉ देशराज सिरसवाल

Posted: मई 5, 2013 in Dalit Liberation, Indian Youth and Corruption
टैग्स: ,

भारत देश एक ऐसा देश बनता जा रहा है जो कागजों में तो लोकतान्त्रिक देश कहलाता है पर वास्तविकता देखे तो कुछ और ही नजारा हमारे सामने दीखता है . कुछ तथ्य देखें :

पिछले कुछ वर्षों से लगातार इन मुद्दो पे बातचीत हो रही और वर्तमान सरकार बेशर्म और नपुसंक बनकर जनता का शोषण रही है . नेता लगातार घोटाले करते जा रहे हैं और राष्ट्रविकास का दंभ भर रहे है।

saveIndiaFromCorruptionBanner2

जब बात आती है युवा और भ्रष्ट्राचार की आती है तो एक अलग समस्या पैदा हो जाती है. आज के शिक्षा की गुणवता के गिरते स्तर के कारण बहुत से नकारात्मक परिणाम हमारे सामने आ रहे हैं :

baba-ramdevs-fast-ends

•शिक्षार्थी दिन प्रतिदिन गम्भीर पठन -पाठन से दूर होते जा रहे हैं और कम मेहनत वाले तरीके अपनाने की कोसिस करते हैं
•उपरोक्त दृष्टिकोण के कारण समाज के प्रति सम्वेदना कम होंती जा रही है। युवाओं के आदर्श जीरो फिगर और पिज़ा संस्कृति बनते जा रहे है. अपने सुख के अलावा उन्हें कुछ हर और नही सूजता .
amul-hits-1280-1

•सरकार ने भी इसमें कमी नही छोड़ी। मानविकी और सामाजिक विज्ञानं के विषयों की बजाये विज्ञान और वाणिज्य जैसे विषयों पर ही जोर दिया जा रहा है ताकि इनके संस्थानों के लिए अच्छा पैसा बन सके
•चाहे वो दाखिलों के जरियों हो या नौकरियों के लिए रिश्वतखोरी हो.
•दूसरी बात यह हैं की इन विषयों के प्रचार प्रसार में जो व्यय होता हैं, वो सारा जनता का है पर जब ये पढ़ लिख जाते हैं तो सामाजिक सरोकारों से अलग हो जाते है .
•जितने भी बड़े बड़े सरकारी संस्थानों में ये शिक्षा दी जाती हैं वह के विद्यार्थी ज्यादातर अंतर्राष्ट्रीय कम्पनियों में जॉब करते हैं या विदेश में चले जाते हैं
•इससे बड़ा और दुर्भाग्य क्या हो सकता है की जनता का पैसा इस तरह खर्च होता है .
•इनमे से ही बहुत से लोग फिर इन नेताओं की जी हजुरी करते हैं और भ्रष्टाचार में लिप्त होते है.
•जब युवा नौकरी के लिए जाते हैं तो इन्ही नेताओ के पैरों में पड़ते हैं और इसके लिए हर तरह की बेईमानी करते करते है।
•जो लोग इस तरह से जॉब लेते हैं वे ही अपने दिए पैसे पुरे करने के लिए भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं .
अगर भारत का युवा इस तरह की बेईमानी को न अपनाये और समाज के प्रति अपनी जिम्मेवारी समझे तो समाज में शांति और सुरक्षा का माहौल बनेगा। नही तो इन्ही नेताओ के साये में जी रहे गुनाहगार इसी तरह हमारे समाज को खराब करते रहेंगे .

राजनितिक नेता, धर्म के ठेकेदार और भ्रष्ट युवा ही हमारे समाज को हानि पहुंचा रहे है .

जय भीम जय भारत

डॉ देशराज सिरसवाल

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s